कुत्तों द्वारा दौड़ा दौड़ा कर बेदम किए जाने पर, आतंकी सरगना बगदादी ने परिवार सहित खुद को उड़ाया बम 💣 से

 
सौजन्य – मनमोहन डिमरी
#आपरेशन_कायल_म्युलर_और_बगदादी
इस्लामिक आतंकी ISIS सरगना अबु बकर अल बगदादी अमेरिकी सेना के ट्रेंड कुत्तों द्वारा पीछा किए जाने पर एक बड़े रणनीतिक आप्रेशन में अपने ही द्वारा बनाई सुरंग के डेड एंड में फंसने के बाद अपने हाथों धमाका कर अपनी 2 पत्नियों व 3 बेटों सहित मारा गया। मौत से अंतिम 7 मिनट में वो रो रहा था गिड़गिड़ा रहा था। बता दें कि  अमेरिकी राष्ट्रपति ने  इस्लामिक आतंकी  बगदादी को मारने के लिए  सीआईए के  निर्देशन में  एक बड़े ऑपरेशन को अंजाम देने के लिए  तैयार की थी  जिसमें अमेरिकी फौज द्वारा ट्रेनिंग प्राप्त कुत्तों ने बड़ी भूमिका निभाई  और बगदादी का ऐसा पीछा किया  कि बगदादी अपनी ही बनाई हुई गुफा में जा छिपा। बगदादी के होने की सटीक सूचना भी  बगदादी के 1 साथी से ही  सीआईए ने प्राप्त की जिसके आधार पर  बगदादी को घेरने की रणनीति बनाई गई।
    बगदादी की मौत के बाद सीरिया और इराक के अशांत इलाकों में शांति स्थापित होने की उम्मीद है।साथ ही अमेरिकी मानवाधिकार कार्यकर्ता कायला म्युलर की परिजनों को भी न्याय मिला होगा।ज्ञातव्य है कि अमेरिकी लड़की को सीरिया से ISIS ने अपहरण कर लिया था और अमेरिका से उसको छोड़ने के एवज में एक पाकिस्तानी को छोड़ने सहित एक बड़े धन की मांग की थी,जिसको अमेरिका ने अस्वीकार कर दिया था।बाद में बगदादी ने अनेकों बार उसका दैहिक शोषण किया और उसके बाद वर्ष 2015 में उसकी अज्ञात कारणों से मौत हो गयी थी,कायला का शव आज तक उनके घर वालों को नही मिला है।
बगदादी की मौत के बाद 80 लाख सीरिया और इराक के नागरिको सहित दुनियाँ को राहत मिली है और आतंवाद पर एक साथ जुटे देशों को एक सबसे बड़ी सफलता मिली है।
दुनियाँ को  ISIS के झंडे तले लाने और इसका सम्राज्य स्थापित करने की विचारधारा को दुनियां भर में प्रसारित कर इसका समर्थन प्राप्त करने वाले स्वयंभू खलीफा की मौत से दुनियाँ में शांति आएगी और नकारात्मक लेकर चलने वाली सोच की जगह सकारात्मकता के विचारों का सृजन होगा।
दीपावली के इन पावन दिनों व पर्व के अवसर पर ये खबर सुखदायी है।
आप सभी सकारात्मक व सृजनात्मक विचारों से युक्त सभी मित्रों को बधाई।⛳